Friday, June 14, 2024
Hindi News:हिंदी समाचार,हिंदी News in Hindi Ambikapur | Raipur | Chhattisgarh | Latest News:
placeholder text
34.8 C
Ambikāpur
Friday, June 14, 2024

रात के अंधेरे में बनाई जा रहीं PMGSY की सडक़ें, इतना घटिया निर्माण कि पैर मारते ही उखड़ रहीं Road

Must read

PMGSY road: अंबिकापुर ब्लॉक के ग्राम कुल्हाड़ी से सरगवां तक चल रहे निर्माण कार्य से गुणवत्ता गायब, सडक़ निर्माण में न तो तय मापदंड का किया जा रहा पालन और न हीं सामग्री का

अंबिकापुर. PMGSY road: प्रधानमंत्री ग्राम सडक़ योजना के तहत ग्रामीण इलाकों में बनाई जा रही सडक़ों के निर्माण में खुलेआम भ्रष्टाचार हो रहा है। विभाग के अधिकारी और ठेकेदार की मिलीभगत से गुणवत्ताविहीन सडक़ का निर्माण कर शासन को करोड़ों रुपए का चूना लगाया जा रहा है। इसके बावजूद सभी ने चुप्पी साध रखी है। कमीशनखोरी के चक्कर में कोई कार्रवाई अथवा जांच नहीं हो रही है। अंबिकापुर ब्लॉक के ग्राम कुल्हाड़ी से सरगवां तक पीएमजीएसवाई के तहत सडक़ का निर्माण कराया जा रहा है। निर्माण कंपनी के ठेकेदार द्वारा सडक़ रात के अंधेरे में सडक़ बनाई जा रही है, ताकि मनमानी व भ्रष्टाचार पर कोई नकेल न लगा सके।

PMGSY Road Nirmarnd

अंबिकापुर ब्लॉक के ग्राम कुल्हाड़ी से सरगवां मुख्य मार्ग तक करीब 6 किलोमीटर की सडक़ प्रधानमंत्री ग्रामीण सडक़ योजना के तहत कराया जा रहा है। ठेकेदार द्वारा नियमों को ताक पर रखकर रात के अंधेरे में निर्माण कार्य कराया जा रहा है। स्थानीय लोगों ने आरोप लगाते हुए कहा कि सडक़ बनने के साथ ही पीछे से उखडनी शुरू हो गई है।

यह विभाग व ठेकेदार की मिलीभगत है। लोगोंं का आरोप है कि दिन में सडक़ निर्माण काम नहीं कराया जा रहा है। घटिया स्तर का निर्माण रात के अंधेरे में कराया जा रहा है, ताकि लोगों की नजर से बच सके।

लोगों का कहना है कि सडक़ों के निर्माण में मापदंडों और गुणवत्ता का कहीं भी ख्याल नहीं रखा गया है। जीएसबी और डब्ल्यूबीएम लेयर का कही अता-पता नहीं है। मैटेरियल के इस्तेमाल में भी तय मापदंड नहीं अपनाए गए हैं।

रात के अंधेरे में कराया जा रहा काम
स्तरहीन निर्माण का पता न चल सके इसलिए विभाग की मिली भगत से ठेेकेदार द्वारा रात के अंधेरे में काम कराया जा रहा है। मौके पर न तो इंजीनियर रहते हैं और न ही ठेकेदार की मौजूदगी। केवल मजदूरों के भरोसे करोड़ों की सडक़ का घटिया काम अंधेरे का फायदा उठाकर कराया जा रहा है।

जूते की ठोकर भर से ही उखड़ जा रही सडक़
सडक़ का ऐसा निर्माण कराया जा रहा है कि जूते की ठोकर मारने मात्र से सडक़ पर बिछाया गया डामर उखड़ जा रहा है। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि किस स्तर की सडक़ बनाई जा रही है।

ग्रामीणों ने सडक़ निर्माण को लेकर ये कहा
सरगवां निवासी आशुतोष चक्रवर्ती का कहना है कि पीएमजीएसवाई के तहत निर्माण कराई जा रही सडक़ की गुणवत्ता सही नहीं है। आगे सडक़ बनती जा रही है और पीछे से उखड़ भी रही है। वहीं सडक़ का निर्माण रात के अंधेरे में कराया जा रहा है।

वहीं विपिन विश्वास का कहना है कि सडक़ का निर्माण सरगंवा से कुल्हाड़ी तक कराया जा रहा है। लेकिन निर्माण काफी घटिया है। बनने के साथ ही पीछे से सडक़ उखड़ रही है। वहीं सडक़ किनारे स्लैब भी नहीं बनाया जा रहा है। इससेे दुर्घटना का भी भय बना हुआ है।

अधिकारी ने फोन रिसीव नहीं किया
गुणवत्ताविहीन सडक़ निर्माण के संबंध में पत्रिका के रिपोर्टर ने पीएमजीएसवाई के अधिकारी यतिन्द्र शुक्ला के मोबाइल पर कई बार फोन लगाकर उनका पक्ष जानना चाहा। लेकिन उन्होंने फोन ही रिसीव नहीं किया।

- Advertisement -spot_img

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img

Latest article

error: Content is protected !!